पीएम ने सिख समुदाय की आस्था का किया सम्मान : नंदकिशोर

0
10

26 दिसंबर को ‘वीर बाल दिवस’ मनाये जाने की घोषणा अभिनंदनीय

श्री गुरु गोबिंद सिंह और उनके परिवार के त्याग, समर्पण व बलिदान को जान सकेगी नयी पीढ़ी

पटना, 9 जनवरी। भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं प्रदेश के पूर्व मंत्री नंदकिशोर यादव ने प्रत्येक वर्ष 26 दिसंबर को ‘वीर बाल दिवस’ के रूप में मनाये जाने की पीएम मोदी की घोषणा का स्वागत करते हुए कहा कि सिख साहिबजादों के अतुलनीय बलिदान के प्रति यह राष्ट्र की समेकित श्रद्धाजंलि है।
           श्री यादव ने आज यहां कहा कि कहा कि माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी  की यह घोषणा अभिनंदनीय है।  प्रधानमंत्री  ने यह घोषणा कर पीड़ित मानवता के त्रेता श्री गुरु गोबिंद सिंह जी महाराज के पुत्रों के अमर बलिदान को सम्मानित किया है। इस घोषणा से हर किसी को उनके सर्वोच्च बलिदान की जानकारी मिलेगी। नयी पीढ़ी को श्री गुरु गोबिंद सिंह जी और उनके परिवार के त्याग और समर्पण को जान सकेगी। देश के युवा को इसका ज्ञान होगा कि धर्म रक्षा के लिए श्री गुरु गोबिंद सिंह ने अपने परिवार को कुर्बान कर दिया था। उनके चार पुत्र अजित सिंह, जुझार सिंह, फतेह सिंह और जोरावर सिंह धर्म रक्षा के लिए ही दिसंबर के अंतिम सप्ताह में ही शहीद हुए थे।
          श्री यादव ने रविवार को प्रेस रिलीज जारी कर कहा कि  प्रधानमंत्री मोदी  देश की धर्म-संस्कृति के उन्नायक हैं। उन्होंने भारतीय संस्कृति को वैश्विक फलक पर प्रतिष्ठा दिलायी है। इस ऐतिहासिक घोषणा से उन्होंने देश-दुनिया के करोड़ों सिख समुदाय के लोगों की आस्था का सम्मान किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here