पटना: विधानसभा उपचुनाव प्रचार से लौटने के बाद मुख्यमंत्री ने पटना हवाई अड्डे पर पत्रकारों से की बात।

0
13

हर्षित सिन्हा, पटना


पटना, 25 अक्टूबर 2021 :- मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने कुशेश्वरस्थान और तारापुर में चुनावी जनसभा को संबोधित करने के बाद पटना एयरपोर्ट पर पत्रकारों से बातचीत की। विधानसभा उपचुनाव में एन0डी0ए0 को मिल रहे रिस्पांस को लेकर पत्रकारों के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि एसेसमेंट करना पत्रकारों का काम है, हमलोगों का काम लोगों की सेवा करना है। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में दोनों सीटों पर एन0डी0ए0 की जीत हुई थी लेकिन ये दुख की बात है कि दोनों विधायकों की मृत्यु हो गई जिसके कारण उपचुनाव हो रहा है। उपचुनाव में सभी दलों के नेता प्रचार कर रहे हैं। हमलोग भी जनता के बीच जाकर अपनी बातों को रख रहे हैं। हमलोगों को काफी अच्छा रिस्पांस मिल रहा है। हमलोग जनता से आग्रह कर रहे हैं कि वे एन0डी0ए0 के उम्मीदवारों को विजयी बनायें। निर्णय लेने का अधिकार जनता को है। जनता के मूड का आकलन पत्रकार ज्यादा बेहतर ढंग से कर सकते हैं।
दोनों सीटें जीतने के श्री लालू प्रसाद यादव के दावे के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि दावा करने में किसी को कोई दिक्कत नहीं है। दावा करने में क्या जाता है? लोग जेल के अंदर और बाहर रहकर बातें करते रहते हैं। हमको इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देनी है। उन्होंने कहा कि हम जानते हैं कि जब उनलोगों को राज करने का मौका मिला तो उन्होंने जनता की सेवा नहीं की। उनलोगों का काम सिर्फ बोलते रहना है, जिसको जो मर्जी है वह बोलते रहें। हमको इससे कोई लेना-देना नहीं है, इन बातों को कोई महत्व नहीं देते हैं।
बिहार में बच्चों की कोमॉर्बिडिटिज की सूची जारी करने को लेकर पत्रकारों के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इन सब चीजों पर काम चल रहा है। इसको लेकर विभाग के द्वारा पहले भी कदम उठाये गये हैं और आगे भी जो जरुरी होगा वह किया जायेगा।
श्री लालू प्रसाद यादव द्वारा कांग्रेस के बिहार प्रभारी पर की गयी टिप्पणी को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि हम इन सब बातों का नोटिस नहीं लेते हैं। इन लोगों का काम ही यही है। उनलोगों का काम है कुछ-कुछ बोलते रहना, काम करना नहीं है। काम में कभी दिलचस्पी नहीं रही है, सिर्फ जुबान चलाते रहते हैं। ऐसा करने से उनलोगों को काफी पब्लिसिटी मिलती है। ऐसे लोग बिना काम किये पब्लिसिटी लेते हैं। ऐसे लोगों की बात पर हम कभी ध्यान नहीं देते हैं। अगर वे प्रचार में जाना चाहते हैं तो जायें। यह उनलोगों को तय करना है।
उपचुनाव में दोनों सीटें जीतने के बाद बिहार में सरकार बनाने के राजद के दावे के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि जनता मालिक है। चुनाव परिणाम क्या होगा यह सबको पता चल जायेगा। हम इन लोगों पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देते हैं।
कुशेश्वरस्थान में सड़क की खराब हालत को लेकर राजद के दावे पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उनके राज में पहले सड़क की हालत कितनी अच्छी थी यह सबको पता है। उन्होंने कहा कि बिहार में सिर्फ सड़कों का निर्माण ही नहीं हो रहा बल्कि उनके मेंटेनेंस भी किये जा रहे हैं। इसको लेकर पॉलिसी बना दी गई है। बाढ़ से बचाव एवं अतिवृष्टि से हुयी फसल क्षति को लेकर काफी काम किया जा रहा है। राजद के लोग अपने शासन के दौरान की स्थिति देख लें। पहले बाढ़ एवं सुखाड़ में लोगों को मदद नहीं मिलती थी। बोलने से पहले लोग पहले की स्थिति को याद कर लें। अभी बिहार में क्षेत्र में काम हो रहा है तो वे लोग टिप्पणी कर रहे हैं, पहले कैसी स्थिति थी इसके बारे में जनता को बतायें। पहले बिहार में सड़क और बिजली की क्या स्थिति थी? यह सबको पता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले बिहार में मात्र 700 मेगावाट बिजली की आपूर्ति होती थी, अभी साढ़े 6 हजार मेगावाट बिजली की आपूर्ति हो रही है। मुख्यमंत्री ने चुटकी लेते हुये कहा कि पहले कितनी अधिक बिजली की आपूर्ति होती थी। अब कितनी कम आपूर्ति हो रही है।
उपचुनाव में एन0डी0ए0 की जीत को लेकर आश्वस्त होने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हमलोग काम में लगे रहते हैं। हम जनता की सेवा करते हैं। जनता मालिक है वो जो फैसला करे। जिसे जो बोलना है वो बोलता रहे, हमें इस पर कुछ नहीं कहना है। हमलोगों को सिर्फ काम में दिलचस्पी है। हमलोगों के लिए पूरा बिहार एक परिवार है जबकि कुछ लोगों के लिए निजी परिवार ही सबकुछ है। हमलोगों और उनमें यही फर्क है। बयान देकर पब्लिसिटी लेने में हमारी दिलचस्पी नहीं रहती है।
एक पार्टी द्वारा सिर्फ जदयू को हराने को लेकर चुनाव लड़ने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि जिसको जो करना है वो करे। उनका जो भी उद्देश्य है उसको पूरा करने के लिए खूब लगे रहें, जो मन करे वही करते रहें। इस पर मेरी कोई प्रतिक्रिया नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here