कपड़ा व्यवसायी का बेटा बनेगा एसडीएम

0
70

  • हरनौत बाजार के मनीष को बीपीएससी में 38वां रैंक

नालंदा (बिहार)हरनौत – प्रखंड मुख्यालय के बीच बाजार निवासी उमेश कुमार चौरसिया और इंदिरा देवी के पुत्र मनीष कुमार ने बीपीएससी में 38वीं रैंक प्राप्त कर अपनी मेधा का लोहा मनवाया है। उसका सेलेक्शन बिहार प्रशासनिक सेवा में एसडीएम के पद पर संभावित है। इसकी जानकारी मिलते ही बाजार वासियों में हर्ष का माहौल है। मनीष के घर पर बधाईयों का तांता लगा है। इससे खासकर पिता का सीना गर्व से चौड़ा हो गया है।
मनीष ने हाजीपुर में रहकर सीबीएसई से 10वीं और 12वीं की परीक्षा पास की थी। उसकी मेधा और पढ़ने की ललक से परिवार ने प्रोत्साहित किया। इसके बाद उसने एनआईटी, दुर्गापुर से बीटेक किया। इससे उसका सेलेक्शन चेन्नई स्थित मर्सिडीज कंपनी में किया गया, जिसमें मनीष ने तीन वर्षों तक नौकरी भी की। पर यह उसका आखिरी पड़ाव नहीं था। उसने ईमानदारी से स्वाध्याय जारी रखा। उसका नतीजा बीपीएससी के परिणाम से सामने है। अब वह युपीएससी की तैयारी में है। दस अक्टूबर को उसकी प्रारंभिक परीक्षा है।
मनीष की इच्छा युपीएससी में चयनित होकर राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर राज्य और जिले का नाम रौशन करना है। मनीष ने बताया कि हम जिस क्षेत्र या समुदाय से संबंध रखते हैं। वहां बाप-दादा के पेशे को ही अपनाने की परंपरा रही है। उनकी मंशा इस परंपरा को बदलनी है।
मनीष ने सफलता का श्रेय माता-पिता और बड़े भाई रवि गौतम को दिया है। उनसे मेहनत कर आगे बढ़ने का संकल्प मिला।
मनीष के पिता का बीच बाजार में संतोष वस्त्रालय नाम से कपड़े की दुकान है। हाजीपुर में भी इनके रिश्तेदार इसी व्यवसाय में हैं।

रिपोर्ट – गौरी शंकर प्रसाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here