बेतिया-टीबी मुक्त बिहार” बनाने के लिए लगाया जा रहा निःशुल्क जांच शिविर।*

0
12

बेतिया।स्वास्थय विभाग बिहार सरकार ने के.एच.पी.टी.केयर इंडिया एवं अन्य स्वास्थ्य संगठन के सहयोग से टीबी मुक्त बिहार के लिए अलग-अलग जिलों में टीबी जन आंदोलन अभियान चला रहा है।इसके अंतर्गत गुरुवार को पश्चिमी चंपारण जिले के रामनगर प्रखंड के के उप स्वास्थ्य केंद्र सपही मधुबनी पर टीबी जांच शिविर का आयोजन किया गया। इस जांच शिविर में एन.टी.इ.पी. , एस.टी.एल.एस. नाशिमुल्लाह करीम एवं टीबी सहायक रघुनंदन सिंह, ए.एन.एम. मीना कुमारी, आशा फैसिलेटर बिंदु कुमारी, अन्नपूर्णा गुप्ता एवं देवयंती देवी तथा क्षेत्र की सभी आशा मौजूद रहीं। शिविर में केयर इंडिया के बी.एम. विकास कुमार एवं के. एच.पी.टी. के सामुदायिक उत्प्रेरक जितेंद्र कुमार ने ग्रामीणों को शिविर में अधिक से अधिक भाग लेकर टीवी मुक्त बिहार बनाने में सहयोग की अपील की। इसके साथ ही टीबी मरीजों को सरकार से मिलने वाली सहायता के बारे में भी अवगत कराया। एस.टी.एल.एस. नाजिम उल्लाह करीम ने लोगों को बताया कि टीबी एक गंभीर बीमारी जरूर है पर नियमित दवा और संपूर्ण इलाज से इसे खत्म कर आम जीवन जिया जा सकता है।एस.टी.एल.एस. उपेंद्र कुमार ने कहा कि टीबी के लक्षण के जानकारी के अभाव के कारण ही हम इस बीमारी को हराने में पीछे हैं । टीबी के लक्षणों की जानकारी होने से लोग इसका इलाज कराने स्वयं आगे आएंगे। सरकार द्वारा टीबी मरीजों को निःशुल्क परामर्श एवं दवाइयां के साथ पोषण योजना के तहत ₹500 धनराशि भी दी जाती है ताकि वह पौष्टिक आहार ले सकें और इस बीमारी से लड़ने की प्रतिरोधक क्षमता उनके शरीर में उत्पन्न हो सके। इस घातक बीमारी से बचने के लिए हमारे फेफड़ों का स्वस्थ रहना बहुत जरूरी है। अतः तंबाकू आदि उत्पादों से दूर रहें और अपने फेफड़ों को स्वस्थ रखें।शिविर में शामिल होने वाले
सैकड़ों मरीजों और उनके परिजनों को टीबी के लक्षण, इसके दुष्प्रभाव, व इसके इलाज के बारे में जरूरी जानकारी भी दी गयी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here