यातायात मुहिम मे आज पत्रकारों की टीम द्वारा पटना यातायात पोस्ट का मुआयना किया गया।

0
89

रिपोर्ट- मनोज कुमार सिंह,पटना

पोस्ट भ्रमण के दौरान देखा गया कि पानी में भीग कर यातायात के जवान अपनी ड्यूटी बखूबी निभा रहे हैं, उनके लिए सरकार की तरफ से ना तो रेनकोट ना ही छाता की व्यवस्था है। आज दिनभर रुक-रुक कर पानी हो रही थी तब भी जवान पानी में भींग कर ड्यूटी कर रहे थे, फिर भी उनका मनोबल ऊंचा था और यातायात को सुगम बनाने के लिए वाहन चालकों के हिफाजत और सुविधा के लिए अपनी जान को जोखिम में डालकर कोरोना से बेखौफ होकर अपनी ड्यूटी को अंजाम दे रहे थे हालांकि इस दौरान वाहनों की चेकिंग कम हो रही थी। जाम लगने के कारण ट्राफिक संभालना ही मुश्किल हो रहा था।
सेक्टर 29 के प्रभारी हरीश ठाकुर ने बताया कि हमारे यहां यातायात पोस्ट के छावनी का निर्माण नहीं होने से हम लोग आज दिन भर भींगते रह गए। कुछ साल पहले हम लोग को छाता और।बरसाती मिलता था जो अब नहीं मिल रहा है, जवान बरसाती पहनकर ड्यूटी करते थे जो आज नसीब नहीं है
। परिवहन विभाग को एक बड़े राजस्व देने वाला यातायात विभाग अपने अधिकारियों और जवानों की सुख सुविधा की चिंता कब करेगा। अधिकांश ट्राफिक पोस्ट जर्जर अवस्था में है या फिर कुछ जगह शेड्स है ही नहीं, तो आप समझ सकते हैं कि बरसात के इस मौसम में जवान किस तरह अपनी ड्यूटी कर रहे होंगे। हालांकि सरकार इनके सुख सुविधा के लिए कार्यरत है एवं ट्राफिक पोस्ट को आधुनिक बनाने के लिए लगातार इस दिशा में क्रियाशील है। जिस तरह ठंड के मौसम में जवानों को जैकेट प्रदान किया गया था उसी तरह अभी रेनकोट या छाता देने की जरूरत है जिस से पटना को ट्राफिक जाम से मुक्ति दिलाया जाए।

बहादुरपुर धनुष फुल आर ओ बी के यातायात सेक्टर प्रभारी दिनेश सिंह ने बताया कि हमारे पोस्ट के आज सभी जवान भींग गए क्योंकि शौचालय सुविधा नहीं होने के कारण जवान को दो तीन बार नीचे जाना पड़ता है जो की पानी में भींगते हुए गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here