महंगाई के खिलाफ जाप नेताओं ने किया भैंसों के साथ प्रदर्शन

0
100




पटना 20 जून, बढ़ती महंगाई और पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में लगातार उछाल पर जन अधिकार पार्टी के नेताओं ने भैंसों के साथ प्रदर्शन किया। सैकड़ों की संख्या में जाप कार्यकर्ताओं ने भैंस पर बैठकर बढ़ती महंगाई का विरोध किया लाचार बिचार भैंस मार्च जाप के राष्ट्रीय महासचिव राजेश रंजन पप्पू के नेतृत्व में एन आई टी मोड़ से पी एम सी एच तक निकला। राजेश रंजन पप्पू ने कहा कि पेट्रोल, डीजल, गैस के दामों में आए दिन वृद्धि हो रही है जिससे जनता को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बढ़ते पेट्रोलियम पदार्थों के दामों का असर सभी क्षेत्रों पर पड़ा हैं। लोगों के पास पैसे नहीं हैं। इस कारण हमने सांकेतिक तौर पर भैंस का इस्तेमाल किया। राजेश पप्पू ने सरकार को गरीब, किसान विरोधी सरकार करार देते हुए कहा कि जबतक सरकार बढ़े हुए पेट्रोलियम पदार्थो के दामों को वापस नहीं ले लेती तबतक हमारा आंदोलन जारी रहेगा।

लाचार बिचार भैंस मार्च को सम्बोधित करते हुए जाप के राष्ट्रीय महासचिव प्रेमचन्द सिंह ने कहा कि *सखी सैंय्या तो खुबही कमात हैं, महंगाई डायन खाए जात है*, फिल्म पीपली लाइव का यह गीत देश के आम आदमी का जीवन हैं। आज देश में कमरतोड़ महंगाई को लेकर विरोध जताने के लिए जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ता भैंस के साथ सड़क पर उतर कर मोदी सरकार का विरोध कर रहे हैं। अगर सरकार मूल्यबृद्धि वापस नहीं लेगी तबतक हमारा आंदोलन जारी रहेगा। प्रेमचन्द सिंह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार में आमजन महंगाई की मार से त्रस्त है। केंद्र की भाजपा सरकार ने रसोई गैस के मूल्य में बेतहाशा बढ़ोतरी कर दी जिससे लोगों के रसोई का बजट बिगड़ गया है। जन विरोधी केंद्र सरकार ने पूंजीपतियों के साथ मिलकर आम जनता को कंगाल बना दिया हैं।
लाचार विचार भैस मार्च में सन्नी यादव, नीतिश सिंह, शशांक कुमार मोनू, सुजित , विवेक, विकाश बंसी, भाई विनय, राजन गुप्ता, बिट्टू यादव, चंदन, सुरेश जैसवाल, अभिषेक यादव विजय रावत सुधीर कमल तनुजी विकाश यादव, रमेश राम ईशु यादव धर्मेंद्र पासवान अलोक कुमार सिन्हा दीपांकर प्रकाश उत्कर्ष कुमार उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here